Select Page

· संस्कृति शरणानंद और हर्ष भाटी दोनों ही फिटजी द्वारका सेंटर के स्टूडेंट्स को दिल्ली स्टेट टॉपर घोषित किया गया।

· फिटजी पंजाबी बाग सेंटर के चार वर्षीय क्लासरूम प्रोग्राम की स्टूडेंट सोमादित्य सिंह दिल्ली स्टेट की सेकंड टॉप स्कोरर रही।

· सभी 18 टॉप स्कोरर फिटजी दिल्ली सेंटर के छात्र है

· 30 मे से 29 स्कोरर और 40 मे से 37 स्कोरर फिटजी दिल्ली सेंटर के चार वर्षीय क्लासरूम प्रोग्राम के स्टूडेंट है

· 58 छात्रों मे 52 फिटजी दिल्ली के छात्रों ने अपनी शैक्षिक प्रतिभा के बल पर एनटीएसई स्टेज -1 2017 -18 को क़्वालीफाई किया।

· 9 फिटजी लॉन्ग टर्म क्लासरूम प्रोग्राम के स्टूडेंट्स को स्टेट टोपर घोषित किया ( दिल्ली, चंडीगढ़ ,हरियाणा , झारखण्ड , कर्नाटका , मध्य प्रदेश , तेलांगना , उत्तर प्रदेश , वेस्ट बंगाल ) . और 34 फिटजी लॉन्ग टर्म स्टूडेंट्स को सिटी टॉपर घोषित किया गया।

दिल्ली 16 मार्च 2018 – आई आई टी जे ई ई की सर्वोचता , टीचिंग मेथड के लिए पहचाने जाने वाले फिटजी के दिल्ली सेंटर के छात्रों ने एनटीएसई स्टेज -1 क़्वालीफाई करके शहर का नाम रोशन किया।

फिटजी द्वारका सेंटर के स्टूडेंट्स – संस्कृति शरणानंद और हर्ष भाटी को दिल्ली टॉपर घोषित किया गया।

फिटजी पंजाबी बाग सेंटर के चार वर्षीय क्लासरूम प्रोग्राम के स्टूडेंट सोमादित्य सिंह एनटीएसई स्टेज -1 की सेकंड टॉपर बनी।

30 मे से 29 स्कोरर और 40 मे से 37 स्कोरर फिटजी दिल्ली सेंटर के चार वर्षीय क्लासरूम प्रोग्राम के स्टूडेंट है। 58 छात्रों मे 52 फिटजी दिल्ली के छात्रों ने अपनी शैक्षिक प्रतिभा के बल पर एनटीएसई स्टेज -1 2017 -18 को क़्वालीफाई किया।

नेशनल टैलेंट सर्च एग्जाम , एक नेशनल लेवल एग्जाम होने के साथ साथ स्कालरशिप प्रोग्राम भी है। यह स्कालरशिप प्रोग्राम एनसीआरटी द्वारा आयोजित किया जाता है। ऐसे छात्र जो दसवीं मे पढ़ रहे है वे एनटीएसई के लिए योग्य है। एनटीएसई 2017 के चयन की प्रक्रिया को 5 नवंबर को संचालित किया गया था।

संस्कृति शरणानंद और हर्ष भाटी दोनों ही फिटजी द्वारका सेंटर के स्टूडेंट्स है और दोनों ने ही 150 मे से 144 अंक (मैट +सैट ) प्राप्त किए है।

अपनी सफलता से उत्साहित संस्कृति ने बताया कि प्रतियोगिता काफी कठिन थी इसके लिए काफी दिमागी परिश्रम करना पड़ा। कांसेप्ट मे स्पक्ष्ता और रीजनिंग के कारण एक तय समय मे सफलता पाई है। लगातार मेहनत से ही प्रतियोगिता मे सफलता मिली है। वही हर्ष ने कहा – मैं फिटजी द्वारका सेंटर कि फैकल्टी का धन्यवाद अदा करना चाहता हूँ जिन्होंने मेरे आईक्यू को बढ़ाया। यहाँ के स्टडी मटेरियल , डाउट क्लीयरिंग सेशन और पर्सनल गाइडेंस के कारण ही यह संभव हो पाया है। मेरी सफलता मे इनका भी काफी योगदान है।

फिटजी पंजाबी बाग सेंटर की चार वर्षीय क्लासरूम प्रोग्राम की स्टूडेंट सोमादित्य सिंह ने 150 मे से 142 अंक प्राप्त किए है।

अन्य रैंक होल्डर्स अमन बूचा (फिटजी ईस्ट दिल्ली सेंटर ) , यश मेहान (फिटजी द्वारका सेंटर ) , सोमिल अग्रवाल ( फिटजी साउथ दिल्ली सेंटर ) , प्रसनजीत रॉय ( फिटजी साउथ दिल्ली सेंटर ) भी फिटजी दिल्ली के चार वर्षीय क्लासरूम प्रोग्राम के स्टूडेंट है।

फिटजी द्वारका के हेड श्री विनोद अग्रवाल का कहना है कि हम अपने छात्रों की इस शानदार परफॉरमेंस से काफी उत्साहित है। जो अंक छात्रों ने एनटीएसई स्टेज -1 मे पाए है वे काबिलेतारीफ़ है। फिटजी का फोकस छात्रों को प्रतियोगिता के लिए तैयार करना और उनकी आईक्यू को बढ़ाने पर होता है खासकर जब वे आठवीं कक्षा मे होते है तब से। विज्ञान को रटने से नहीं अपितु इसे समझने से छात्रों की परफॉरमेंस मे इजाफा होता है।

इसमे सफल छात्र ही एनटीएसई स्टेज -2 के लिए योग्य होंग जिसे एनसीईआरटी द्वारा मई 2018 मे आयोजित किया जाएगा।

एनटीएसई एग्जाम हर साल दसवी के छात्रों के लिए आयोजित जाता है और इसे देश के होनहार बच्चो मे बहुत ही चर्चित एग्जाम माना जाता है। यह स्कीम गोवेर्मेंट ऑफ़ इंडिया ने 1963 मे शुरू की थी ताकि बच्चो मे क्वालिटेटिव इम्प्रोवेर्मेंट हो सके।

फिटजी देश का प्रेमियर इंस्टिट्यूट है। जो आई आई टी – जेईई की ट्रेनिंग करता है। फिटजी मानता है कि बच्चो मे आईक्यू बढ़ाने और उन्हें तैयार करने के लिए सही समय तब होता है जब वो कक्षा 6 , 7 और 8 मे हो। इस सोच के साथ फिटजी ने ट्रेनिंग देने की शुरुवात कि है ताकि कक्षा 6 से ही बच्चो मे इंटेलिजेंस विकसित हो सके।