दिवंगत प्रधानमंत्री के नाम पर ‘अटल निबंध प्रतियोगिता’

बिहार के पूर्णिया जिले से पूर्व सांसद उदय सिंह ने निबंध और कविता के माध्यम से छात्रों को दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जीवन के अनछुए पहलुओं से परिचित कराने के लिए ‘अटल निबंध प्रतियोगिता’ की घोषणा की। यह प्रतियोगिता बिहार के पूर्णिया, अररिया, कटिहार और किशनगंज जिले में मैथिली, हिंदी और इंग्लिश में आयोजित की जाएगी। पूर्व सांसद उदय सिंह ने बताया, “निबंधों की जांच के लिए पूर्णिया यूनिवर्सिटी के कुलपति अपनी सहमति दे चुके हैं। यह प्रतियोगिता पूर्णिया ही नहीं, बल्कि सीमांचल के अन्य जिलों अररिया, कटिहार और किशनगंज में भी होगी। यह प्रतियोगिता मैथिली, हिंदी, अंग्रेजी में होगी।”

यह प्रतियोगिता पूर्व सांसद उदय सिंह उर्फ पप्पू सिंह की अध्यक्षता में पूर्णिया लोकसभा विकास परिषद के तत्वाधान में होगी। प्रतियोगिता स्कूल और कॉलेज स्तर पर आयोजित की जाएगी।

उन्होंने बताया कि प्रतियोगिता में विजयी प्रतिभागी को पुरस्कृत किया जाएगा। इस दो स्तरीय प्रतियोगिता में सीनियर और जूनियर ग्रुप होंगे। सीनियर ग्रुप में निबंध लेखन 2500 शब्दों का होगा, जबकि जूनियर ग्रुप में 1500 शब्दों में अटल पर निबंध लिखना होगा।

निबंध की जांच विश्वविद्यालय के विशेषज्ञ प्राध्यापकों की जूरी द्वारा कराई जाएगी। निबंध लेखन अटल जी के संदर्भ में लिखा जाना जरूरी होगा। दोनों वर्ग के प्रतिभागी में से एक-एक को ‘सर्वश्रेष्ठ अटल पुरस्कार’ दिया जाएगा, बाकी के दोनों वर्ग में चुने गए तीन-तीन श्रेष्ठ प्रतिभागियों को क्रमश: पहला, दूसरा और तीसरा पुरस्कार दिया जाएगा। निबंध लेखन की अवधि विज्ञापन के प्रकाशन की तिथि से 30 दिनों की होगी। जूरी के फैसले पर किसी भी तरह की शिकायत नहीं की जा सकेगी या कोई सवालिया निशान नहीं लगाया जा सकेगा।

पूर्व सांसद ने कहा कि प्रतियोगिता का मुख्य उद्देश्य युवाओं को अटल जी के जीवन, उनके विचार और नीतियों से अवगत कराना है। प्रतियोगिता का विषय कौमी एकता, अटल जी का राजनीतिक जीवन, राष्ट्रीय सुरक्षा और महत्व, स्वर्णिम चतुर्भुज योजना से आर्थिक विकास में सहयोग आदि होगा। इस अवसर पर कविता लेखन भी कराया जाएगा।